आपके शरीर में ये 7 लक्षण है तो समझे आप खा रहे हैं ज्यादा नमक (Salt)

दोस्तों नामक (Salt)एक खाद्य पदार्थ है। यह एक मसला है जो खाने की चीजों में स्वाद अनुसार इस्तेमाल किया जाता है। कुछ लोग कम नमक( Salt) खाना पसंद करते हैं तो कुछ लोग अधिक नमक खाना पसंद करते हैं । नमक सोडियम का सबसे अच्छा और सीधा स्रोत होता है। हालांकि शुद्ध रूप में नमक Sodium और Chloride से बना होता है। आपको बता रहे हैं कि (Salt)सिर्फ एक प्रकार (Type) की नहीं बल्कि पूरे 5 प्रकार के होते हैं। हमारे शरीर इन तत्व को अपने आप नहीं बना सकता है इसलिए हमें इन्हें अपने आहार से प्राप्त करना होता है। हमारे शरीर में Sodium और Chloride की भूमिका उतनी ही है जितनी Vitamins की होती है। यह हमारे शरीर की हर कोशिका के अंदर और बाहर मौजूद अन्य खनिजों के साथ तालमेल बनाकर शरीर को ठीक से चलाने में मदद करता है।सोडियम खाना पचाने के साथ ही हमारे पाचन तंत्र ( Digestive System ) को भी अच्छा रखता है लेकिन जब लोग सोडियम का अधिक मात्रा में सेवन करने लगते हैं तो ये शरीर के लिए फायदे की जगह नुकसान पहुंचाता है।

 

Salt (नमक) 5 प्रकार के होते हैं, जैसे-

1. टेबल साल्ट (Tabal Salt)
2. सेंधा नमक ( Rock Salt)
3. काला नमक ( Black salt)
4. Low Sodium salt
5. Sea salt

1. सादा नमक (Tabal Salt)

सादा नमक में सोडियम की मात्रा सबसे अधिक होती है और आयोडीन भी पर्याप्त मात्रा में होती है।जिससे हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन करना हमारे शरीर के लिए हानिकारक है खासतौर पर हमारी हड्डियों को सीधे तौर पर प्रभावित करता है।

 

2. सेंधा नमक ( Rock Salt)

सेंधा नमक में कैल्शियम, पोटेशियम और मैग्नीशियम की मात्रा सादा नमक से काफी ज्यादा होती है। जो हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा होता है। Heart and kidney से संबंधित परेशानियां जिन लोगों को होती है उन लोगों को इस नमक का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद साबित होती है।

 

3. काला नमक ( Black salt)

काला नमक के सेवन से कब्ज, बदहजमी, पेट दर्द, चक्कर आना, उल्टी और जी घबराना आदि जैसी समस्याओं मैं फायदेमंद होता है। काला नमक हर तरह की व्यक्तियों के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन यह भी याद रखिए कि कोई भी चीज ज्यादा मात्रा में सेवन करना हानिकारक होता है वैसे ही काला नमक है इसमें फ्लोराइड मौजूद होता है। इसलिए इसका ( Black salt) सीमित मात्रा में उपयोग होना चाहिए।

 

4. Low Sodium salt:-

जिन लोगों को ब्लड प्रेशर, हृदय रोगी और मधुमेह जैसी समस्या से पीड़ित है उन लोगों को बाजार में उपलब्ध लो सोडियम साल्ट यानी पोटेशियम Salt सेवन करना चाहिए। सादा नमक की तरह इसमें भी सोडियम, पोटेशियम और क्लोराइड होते हैं।

 

5. Sea salt:- 

सी साल्ट वाष्पीकरण के जरिए बनाए जाते हैं और यह नमक पेट फूलना, तनाव, सूजन, आंत्र गैस और कब्ज जैसी समस्या में सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। यह नमक सादा Salt की तरह नमकीन नहीं होता है।

 

 

अगर आपको अपने आप में यह 7 लक्षण (Symptoms) दिखाई देती है तो समझे कि शरीर में Salt बढ़ रहा है।

 

  1. ब्लड प्रेशर ज्यादा होना ( High blood pressure )

     ये तो अपने सुना ही होगा कि जिन्हें हाय ब्लड प्रेशर है वे कम नमक खाना चाहिए। हाई बीपी की समस्या होने से आपको गुस्सा अधिक आता है और आप दिल के रोगी भी हो सकते हैं। और कम नमक खाने से भी लो ब्लड प्रेशर हो सकती है।

 

symptoms-of-excess-salt-intake-in-hindi
Type of Salt

 

  1. पेट का कैंसर ( Stomach cancer )

    ज्यादा नमक खाने से आपके शरीर में अधिक मात्रा में सोडियम पहुंचता है। इससे पेट का कैंसर होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। इसलिए जरूरी है कि पर्याप्त मात्रा में ही नमक का सेवन किया जाए

 

  1. ज्यादा प्यास लगना ( More thirsty )

     हर बार प्यास लगने का मतलब नमक की अधिकता नहीं हो सकती। लेकिन ज्यादातर मामलों में शरीर में नमक की मात्रा बढ़ने पर प्यास बढ़ सकती है । ऐसा इसलिए क्योंकि आपका शरीर अपने सिस्टम से अधिक सोडियम निकालना चाहता है।

    

  1. बेवजह सूजन आना ( Swelling )

   इसे इडिमा (Edema) कहते हैं, आपके शरीर में बिना वजह सूजन आना। जी हां सुनने में अजीब लगे लेकिन एक रात ही अधिक नमक आपके शरीर पर कई तरह असर छोड़ सकता है।

 

  1. निर्णय लेने में कमी :- ( Decision making )

      2011 में आई 1 कैनेडियन स्टडी में यह सामने आया कि ज्यादा नमक का आपके दिमाग पर असर होता है। जो अधिक नमक खा रहे थे उनका काम कम नमक खाने वाले की तुलना में अस्पष्ट था। उनमें अधिक नमक के कारण अपने काम को समझ कर फैसला लेने की शक्ति में कमजोरी पाई गई थीं।

 

  1. पेट में छाले :- ( Stomach ulcer )

   कोई केस में अधिक नमक खाने से पेट में छाले पैदा कर सकती है । नमक इतना भयानक है कि जानवरों मैं यह कैंसर पैदा कर सकता है।

  

  1. पथरी हो सकती है:- ( Stone can occur )

    जी हां डाइट में ज्यादा नमक आपको किडनी ( Kidney ) के फंक्शन प्रभावित कर सकता है । नमक से यूरिन में होने वाले प्रोटीन की मात्रा बढ़ जाती है यह खतरनाक भी है। इसीलिए पर्याप्त मात्रा में नमक खाना चाहिए।

 

    8. Water retention यानी शरीर में पानी का जमाव:-

वॉटर रिटेंशन यानी शरीर में पानी का जमाव बढ़ जाता है इसका कारण ज्यादा मात्रा में नमक लेना। इससे हाथ, पैर और चेहरे में सूजन भी आ जाती है।

 


-इस आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद। अगर आप कुछ कहना या जानना चाहते है,तो आप नीचे कमेंट सेक्शन में कमेंट जरूर करे या फिर ईमेल करें।

Email:- techpixofficial@gmail.com

 

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares