Constitution of India से जुड़ी कुछ खास बातें, जो आपको जानना चाहिए ?

दोस्तों क्या आप जानते हैं विश्व का सबसे बड़ा लिखित Constitution of India का है और विश्व का प्रथम लिखित संविधान संयुक्त राज्य अमेरीका का है। संविधान द्वारा संपूर्ण देश की शासन व्यवस्था को नियंत्रित किया जाता है, संविधान दो प्रकार के होते हैं लिखित और दूसरा अलिखित। Constitution of india संविधान सभा द्वारा 26 नवंबर 1949 को आंशिक रूप से लागू किया गया और 26 जनवरी 1950 पूर्ण रूप से संपूर्ण देश में लागू कर दिया गया, प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। constitution of india में 22 भाग, 444 अनुच्छेद, तथा 12 अनुसूचियां है, परंतु संविधान निर्माण के समय इसमें 22 भाग, 395 अनुच्छेद और 8 अनुसूचियां थी।

हमारा देश 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्रता की लंबी लड़ाई के बाद आजाद हुआ था उस समय तक हमारे देश पर अंग्रेजों का अधिकार था देश आजाद होने के बाद हमारे देश के स्वतंत्रता सेनानियों और राज नेताओं ने देश के उज्जवल भविष्य के लिए constitution बनाने का फैसला लिया डॉ राजेंद्र प्रसाद की अध्यक्षता में डॉक्टर भीमराव अंबेडकर और अन्य विचार पीठ ने संविधान को 26 नवंबर 1949 को पूरा लिखा। इसको लिखने में 2 साल, 11 महीने, और 18 दिन लगा। आइए पहले हम जान लेते हैं कि संविधान क्या है।

 

संविधान क्या है ( What is Constitution Of India )

किसी देश या संस्था द्वारा निर्धारित किए गए वह नियम जिसके माध्यम से उस देश या संस्था का सुचारू ढंग से संचालन हो सके, उसे देश या संस्था का संविधान कहा जाता है। किसी भी देश का संविधान उस देश की राजनीतिक व्यवस्था, न्याय व्यवस्था, नागरिकों के हितों की रक्षा करने का एक मूल ढांचा होता है, इसके माध्यम से उस राष्ट्र के विकास की दिशा का निर्धारण होता है। दोस्तों अब हम जानेंगे भारतीय संविधान ( Constitution of India ) से जुड़ी कुछ रोचक तथ्य जो आपको जानना चाहिए। ( Bhartiya sanvidhan se judi kuchh rochak tathya )

 

Constitution of India से जुड़ी कुछ रोचक तथ्य-

 

       1.बाबा साहेब डॉ. भीम राव अंबेडकर को constitution of india निर्माता कहा जाता है। वे संविधान मसौदा समिति के अध्यक्ष थे।

       2. संविधान बनाने वाले कमिटी के अध्यक्ष डॉ राजेंद्र प्रसाद को बनाया गया था।

      3. भारत का संविधान पूरा हस्तलिखित है मतलब की हाथों से लिखा है इसे श्री श्याम बिहारी रायजादा ने लिखा था।

       4. मसैदा लिखने वाली समिति ने संविधान हिंदी, अंग्रेजी में हाथ से लिखकर कैलिग्राफ क्या था और इसमें कोई टाइपिंग या प्रिंटिंग       शामिल नहीं थी।

       5. संविधान सभा पर अनुमानित खर्च Rs. 10000000 आया था।

        6. हमारा संविधान विश्व का सबसे लंबा लिखित constitution है। और इसके अब तक 100 संशोधन हो चुके हैं।

        7. संविधान किसी भी देश का सर्वोच्च कानून होता है।

        8. संविधान सभा के मुख्य सदस्य थे–जवाहरलाल नेहरू, डॉ भीमराव अंबेडकर, डॉ राजेंद्र प्रसाद, सरदार वल्लभ भाई पटेल, मौलाना अबुल कलाम

      9. संविधान की धारा 74 (1) में यह बताया गया है कि मंत्रि परिषद राष्ट्रपति की सहायता से होगी और इसका प्रमुख होगा प्रधानमंत्री।

       10. “धर्मनिरपेक्ष” शब्द संविधान के 1976 में हुए 42 वे संशोधन अधिनियम द्वारा प्रस्तावना में जोड़ा गया। यह सभी धर्मों की समानता और धार्मिक सहिष्णुता सुनिश्चित करता है।

      11. Constitution of india बनाने से पहले ब्रिटिश सरकार द्वारा बनाए गए एक्ट 1935 को मानते थे।

      12. संविधान में प्रशासन या सरकार के अधिकार उसके कर्तव्य और नागरिकों के अधिकार को विस्तार से बताया गया है।

       13. हैदराबाद एक ऐसी रियासत थी जिसके प्रतिनिधि संविधान सभा में सम्मिलित नहीं हुए थे।

        14. संविधान के प्रारूप पर कुल 114 दिन बहस हुई।

         15. अंबेडकर को संविधान का फाइनल ड्राफ्ट तैयार करने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन लगे।

        16. Constitution of india सभा का चुनाव भारतीय संविधान की रचना के लिए किया गया था। ब्रिटेन से स्वतंत्र होने के बाद संविधान सभा  के सदस्य ही प्रथम संसद के मेंबर बने।

        17. कैबिनेट मिशन की संस्तुतियों के आधार पर भारतीय संविधान का निर्माण करने वाली संविधान सभा का गठन जुलाई 1946 ई० में किया गया था।

       18. संविधान सभा के सदस्यों की कुल संख्या 389 निश्चित की गई थी, जिनमें 292 ब्रिटिश प्रांतों के प्रतिनिधि, 4 चीफ कमिश्नर क्षेत्र के प्रतिनिधि एवं 93 देशी रियासतों के प्रतिनिधि थे।

       19. समाजवादी शब्द संविधान के 1976 में हुए 42 वें संशोधन अधिनियम द्वारा प्रस्तावना में जोड़ा गया।

       20. Constitution of india का पहला संशोधन सन 1951 में हुआ था।

       21. संविधान के अनुसार– भारत रत्न, पद्म भूषण और कीर्ति चक्र पुरस्कार गणतंत्र दिवस के दिन ही वितरित किए जाते हैं।

        22. संविधान के अनुसार– स्वतंत्रता दिवस पर देश के लिए संबोधन प्रधानमंत्री द्वारा किए जाते हैं वही गणतंत्र दिवस पर देश के लिए संबोधन राष्ट्रपति करता है।

       23. Constitution of india द्वारा देश के नागरिकों को छह ( 6 ) मौलिक अधिकार दिए गए हैं।

       24. संविधान की ओरिजिनल प्रतिया आज भी भारत के संसद में है, जहा इसे हीलियम के अंदर डाल कर लाइब्रेरी में रखा हुआ है।

        25. Constitution of india को बहुत ही खूबसूरती से सजाया गया था और इन पन्नों को सजाने का काम ” शांतिनिकेतन ” के कलाकारों ने किया था।

 


 

दोस्तों यदि यह पोस्ट आप लोगों को अच्छा लगे। तो इसे अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें और आपके मन में प्रश्न या फिर कुछ कहना चाहते हैं तो आप नीचे कमेंट या ई-मेल भी कर सकते हैं। धन्यवाद

Email:- techpixofficial@gmail.com

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares