Howly | Howly Town-হাউলী

हाउली के इतिहास- History Of Howly

वर्तमान हाउली (Howly) एक बहुत बड़ा क्षेत्र हो गया है। इतिहास प्रसिद्ध हाउली एक पुरानी क्षेत्र है। बड़नगर का राजा चंडी नारायण बरुवा के राजधानी थे हाउली (Howly). मुगल ने बनाया था आहोम पांडव राजा सत्राजीत के पुत्र प्रताप नारायण के वंश थे राजा चंडी बरुवा। आक्रमणकारी राज Howly के क्षेत्र में आकर बहुत सारी स्मृति स्थल, राजाओं के घर-द्वार नष्ट किए, उसके बाद राजा चंडी बरुवा को बंदी बनाकर उनको मयनबारी में मार दिया इसके पीछे बहुत सारे कारण है जो स्पष्ट नहीं है। लोग कहते हैं कि इस क्षेत्र के बागवर थाना (Bagbar Police Station) की पुरानी रिकॉर्ड में इस राजा के मृत्यु के संपर्क में बहुत सारे रिकॉर्ड या विवरण है। हाउली में एक “पराभराल” नाम के गांव है जहां पर राजा के गुप्त धन, चावल, अनाज के भंडार था वहां पर आक्रमणकारियों ने आक्रमण करके राजा के कुछ गुप्त धन और खाने पीने की चीजों को ले गए और उस गोदाम में आग लगा दिया जिससे उस जगह का नाम “पूराभराल” परा। आक्रमणकारी आक्रमण करने के बाद जो भी अबशिष्ट, कुछ स्मारक स्थल या राजाओं के महल बच्चे थे। वह सब 1897 में जो भूकंप और बार आए थे उसमें सब नष्ट हो गए। फिर से 1900 साल के बाद से हाउली (Howly) में लोग बसना शुरू किया। चारों तरफ से लोग आकर यहां पर बसने लगे थे, जैसे ज्यादातर पूर्व बांग्लादेश और उत्तर बांग्लादेश से लोग आकर इस क्षेत्र में बसने लगे थे। पहले तो लोग यहां पर सिर्फ व्यवसाय के लिए आते थे लेकिन धीरे-धीरे लोग यहां पर जमीन-जायदात खरीदना और खेती-बाड़ी करना शुरू कर दिया। लोग यहां पर आकर अपना गांव बसाने लगा और गांव के नाम ( Howly, Noumuhi, Moiramara, Porabaral, Dupguri, Kaljar, Gilazari, Guwagasa, Batbari, Jarabari, JogirPam, Barbarijar आदि) हाउली का इतिहास और मानास Manash के इतिहास दोनों एक ही है। क्योंकि एक समय मानास नदी हाउली से होकर ही जाते थे। इसकी प्रमाण अभी भी है जो “मारा मानास” या मरा नदी है। कालक्रम में यही राज हावली जाकर अब के Howly बना। पूर्व पल्ला नदी से-पश्चिम मैं बेकी नदी, उत्तर मैं शिमलागुरी से-दक्षिण में चावलखुवा नदी तक हाउली क्षेत्र कहा जा सकता है।

महापुरुष श्रीमंत शंकरदेव हाउली, बरपेटा जिला में रहकर अपने धर्म का प्रचार किया था। इसके बाद उनके नाती पुरुषोत्तम ठाकुर, चतुर्भुज ठाकुर और नाती-वोबारी आई कनकलता हाउली के घिलाजारी मे रहकर धर्म प्रचार किया था। चतुर्भुज ठाकुर ने बनाया था यह घिलाजारी सत्र, यह हाउली में ही था और पुरुषोत्तम ठाकुर ने बनाया था जनिया सत्र जो हाउली के बगल में ही है।
Bhawanipur, Kaljar, Guwagasa, Jania, Haldiya आदि जगह में रहकर गोपाल आता, नारायण दास ठाकुर आता और रामचरण ठाकुर में धर्म प्रचार किया था। दक्षिण हाथीजाना (Hatijana) और मन्दिया (Mandia) परगना पर सती राधिका के पुत्र रामधन ने शासन किया था।

 

जैसा मैंने पहले ही कहा था हाउली का इतिहास और मानाश की इतिहास दोनों एक ही बात है क्योंकि मानास नदी पहले Howly Town से होकर ही गुजरता था। हावली के बरबारी झाड़ (Barbarijar) उस समय के मानास के प्राकृतिक सौंदर्य और प्राकृतिक संपदा से भरपूर था। शनि दशा से मुक्त होने के लिए नर नारायण राजा ने पंडित से परामर्श लेकर अस्थाई राजधानी और बरनगर, बरबारी बनाकर 12 साल बिताया था। इस बारवारी झाड़ के अंदर से जाने वाले “गुहाई कमल” के स्मृति चिन्ह आज भी देखा जाता है। ओर बहुत सारे पुराने स्मृति चिन्ह भी देखा जाता है। नर नारायण राजा गुहाई कमल के द्वारा इस क्षेत्र में चार नगर बनाया था। क्षेत्र के नाम क्रमशः विजयपुर, जयपुर, रायपुर और नर नगर था। इसके भीतर नर नगर अन्यतम था और यह नर नगर ही अब के हाउली (Howly) है।

 

Howly Sahid Badi
Howly Sahid Badi

 

एक समय था जब हाउली (Howly) में प्राकृतिक संपदा से भरपूर था मतलब पेड़-पौधे, हरे-भरे खेत, मानास नदी जो हाउली से होकर ही गुजरता था, चारों तरफ हरियाली थी। अब के प्राचीन बरनगर, हाउली को लेकर इस क्षेत्र को बेकी नदी ने 2 भाग किया। पहले की मानस नदी (मरा नदी) जो हाउली होकर गुजरता था वह क्रमाशा विलीन होने की कगार पर है। एक समय की बात (1942) हाउली बरुवा बाजार (Howly Baruwa Bazar) नाम का एक गांव था वहां पर एक नाहर खोदते समय पुराने काल के प्राय 40 किलो सोना चांदी, अलंकार, पीतल के बर्तन, सिंहासन, डुगडुगी, लोटा और घंटी आदि जैसे बहुत सारे कीमती चीजें मिले थे। Howly और Barnagar क्षेत्र में राजकीय काल के बहुत सारे पुराने मोहर, मुद्रा, मिट्टी के बर्तन आदि मिला था, समय के साथ साथ बहुत सारे चीजें चोरी हो गए और कुछ संख्या मुद्रा, अलंकार गुवाहाटी (Guwahati) के ASI या म्यूजियम में जमा कर दिया गया था। हाउली के रंगदिया पथार मैं रघुराय के दिन के कुछ अलंकार, मुद्रा, मोहर और समय-समय पर अलग-अलग जगह पर बहुत चीजें भी मिले थे।

 

Howly के जनसंख्या 

2001 की जनगणना के अनुसार हाउली में 15,958. इसमें पुरुषों की आबादी 52% और महिलाओं का 48% है। Howly में औसत साक्षरता दर 97% है, इसमें पुरुष की साक्षरता 69% और महिला साक्षरता 96% है।

 

Howly के Railway’s, Bus और Airport Connection

 

 Howly Bus Stand
Howly Bus Stand

 

आपको हाउली में रेलवे और एयरपोर्ट कनेक्शन नहीं मिलेगा। अगर आपको हाउली या बरपेटा जिले से कहीं भी जाना हो तो आपको Railway या Bus सर्विस से जाना परेगा। बरपेटा रोड में एक रेलवे स्टेशन (Barpeta road Railway Station) है जहां से आप भारत की किसी भी जगह जाने के लिए टिकट ले सकते हैं। Howly से बरपेटा रोड की दूरी 10 किलोमीटर। Bus, Tempo से जाने के लिए करीब आधे घंटे का समय लगता है। Howly to Guwahati तक जाने के लिए 2hr 35 Min लगता है, Howly to Guwahati करीब 128 किलोमीटर की रास्ते हैं। हवाई जहाज (Plane) के लिए आपको गुवाहाटी (Guwahati) जाना होगा। उस एयरपोर्ट का नाम Lokpriya Gopinath Bordoloi International Airport, Assam. हाउली मैं 3 बस स्टैंड है। एक Barpeta Town की ओर जाते हैं जो चंडी बरुवा स्मृति भवन के सामने हैं, दूसरा बरपेटा रोड जाने के लिए जो पेट्रोल पंप के बगल में ही हैं और तीसरा Bhawanipur, Kaljar, Guwahati की ओर जाने के लिए “पंचरतन फार्म” कंपलेक्स / बिल्डिंग के सामने एक बस स्टैंड है। Lower Assam धुबरी (Dhubri) जिले में एक नया एयरपोर्ट (Airport)बन रहा है मैंने यह भी सुना है कि वह एयरपोर्ट (Rupsi International Airport, Dhubri) करीब चार-पांच साल के अंदर चालू हो जाएगा।

 

     Howly के सरकारी संस्था

       –Howly Town Committee

 

Howly Municipal Board

 

17-5-1974 साल में हाउली नगर समिति ( Howly Town Committee ) गठन हुआ था। पहली बार समिति का सभापति डॉ सुरेंद्र नाथ दास, उपसभापति जादव चंद्र दास को मनोनीत किया था। हाउली नगर समिति (HTC) गठन होने के बाद हाउली का उन्नयन मुलक कामकाज शुरू हुआ और अमबारी गांव पंचायत विलुप्त हुआ। वर्तमान हाउली में 4 वर्ड (Ward) है। 1977 मैं हावली में पहली बार विद्युत कनेक्शन (Howly Electricity Center) किया गया था। अब Howly Town Committee नहीं रहा मतलब Howly Municipal Board, (2019) बन गया है।
Phone No:- 03666-289385
Google Location:-
https://maps.app.goo.gl/iUaP6MBU7dmsmoC16

 

-Howly Post Office-

1921 में हाउली उप-डाकघर स्थापित हुआ था। Howly Pin No-781316, Post office- Howly, Post office type- Sub-Office, District-Barpeta, State-Assam
Postal taluk:- Howly

Howly Pin Code:-781316

Postal division:-Nalbari
Postal region:- Guwahati-HQ
Postal circle:- Assam (India)
Phone number:- 03666-289420

 

Howly Post Office.

 

Others 9 post office with Same pin code:-
Ambari, Dabaliapara, Jasihatipara, Kujarpith, Sukmanah, Barbala, Ghilajari, Khatslpara, Moutupuri,

 

-Howly Police Station-

हाउली में शांति, आईन-कानून ठीक से चलाने के लिए एक Police Station बनाया गया है। यह पुलिस चकी करीब 1921 (अनुमानित) साल में बनाया गया था बाद में 2013 में यह Howly Police Station बना।
Google location:-
https://maps.app.goo.gl/2GzpHGkAr3d6C6Zq9
Phone No:- 03666-289442

 

 Howly Police Station
Howly Police Station

 

10th BN-CRPF,Howly Town

32 No. Battalion SSB,Howly

Howly Veterinary Hospital, Howly Town

 

Krishi vigyan Kendra, Howly (Khatalpara Road) Nagarjar
Phone:- 03666-289292

 

State Bank of India,Howly Branch
Phulkipara, Assam 781316
Google Location:-
https://maps.app.goo.gl/8zZHhQ3x1CWHtPAz8

 

Pragjyotish Gaolia Bank, Howly
Assam Gramin Vikash Bank
Ambari, Assam 781316
Phone:- 0361-246 4107
Google Location:-
https://maps.app.goo.gl/H7ob2yzxS3VtMdfa7

 

Uco Bank, Howly Branch
Ambari, Assam 781316
Phone:- 1800 274 0123
Google Location:-
https://maps.app.goo.gl/EhzDisJL9TDcLMQa8

  HDFC Bank,Howly 

 

 Howly के मंदिर और मस्जिद

Howly Rash Mandir

1928 हाउली रास मंदिर (Howly Rash Mandir) स्थापित किया गया था। 1928 साल में विश्वनाथ दास को पहला Howly Rash Utsav Committee का सभापति और जोगेश चंद्र दास को संपादक बनाकर रास उत्सव मनाया गया था। रास उत्सव का बात करें तो ये Rash Mahotsav तब बहुत छोटे तौर पर हुआ करता था सिर्फ 10-20 ही मूर्ति हुआ करता था और चारों तरफ जंगल ही जंगल थे। लेकिन आज यहां पर बहुत बड़ा मेला लगता है। अगर मैं गलत नहीं हूं तो यह असम में सबसे बड़ा रास मेला होगा। Howly Rash Mahotsav के बारे में अगर आप ज्यादा जानना चाहते हैं तो हर साल रास मेले के पहले दिन एक किताब मतलब “মুৰুলী” मुरली नाम का एक आलोचना किताब दिया जाता है, जिसमें Howly Rash Mahotsav के बारे में जानकारी मिलेगा। Howly Rash Lottery 2019 रास कमेटी की ओर से हर साल एक खेल चलाया जाता है जिसमें आप लोग टिकट लेकर Howly Rash Mandir Lottery इनाम भी जीत सकते हैं। इनाम जैसे- BMW Car, Mercedes Van, Honda Car, Mahindra Car कीमती गाड़ियां दिया जाता है। Howly Rash Mandir से जूरी इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें।
Click here:- Rash Mandir
Google Location:- https://goo.gl/maps/DoC8F7gtYngPwtK96

Howly Rash Temple
Howly Rash Temple

 

Howly Rash Temple
Howly Rash Temple

 

Howly RadhaGovinda Mandir, Thakurbari

1966 साल में इस मंदिर को स्थापित किया गया था,जैसा आप लोग इस मंदिर को अभी देख रहे हैं, आज 2018 से करीब 15-20 साल पहले यह मंदिर बहुत खराब हाल में था, कच्चे बास की घर थे मंदिर के भीतर बाढ़ के पानी या अगर बारिश आ जाए तो पानी जाते थे। लेकिन बाद में इस मंदिर को धीरे-धीरे करके उन्नत हुवा। ये Howly RadhaGobinda Temple कि जमीन पहले निताई चांन्द नाम के व्यक्ति का था, बाद में वीरेंद्र साह ने खरीद लिया और स्थानीय लोग कहते हैं कि ये जमीन दो-तीन लोगों की थी और इस जमीन में विवाद होने के कारण इस जमीन को Howly के जाने-माने प्रसिद्ध व्यक्ति डॉक्टर सुरेंद्र नाथ दास और स्थानीय कुछ व्यक्ति ने इस जमीन को खरीद कर एक सर्वजनिन मंदिर बनवाने की बात कही और यह जमीन मंदिर के नाम करवा दिए। मंदिर Howly Town में ठाकुर बारी (Thakurbari Road) मैं स्थित है।
Google location:- https://maps.app.goo.gl/QpYicN92F13CkTav6
Facebook Page:- https://www.facebook.com/radhagobindatemplehowly/

 

Howly RadhaGobinda Mandir

 

Howly Shamshan Ghat

हाउली श्मशान घाट ऐतिहासिक मरा मानास नदी के पास 1965 साल में स्थापित हुआ था। और यह श्मशान घाट (Howly Shamshan ghat) Howly Raas Mandir के पास ही है। इस श्मशान में तीन मंदिर है जहां पर मां काली, बूढ़ी मां और एक शिव मंदिर है, श्री श्मशान काली मंदिर में प्रतिष्ठित काली देवी की मूर्ति श्री ब्रज गोविंद शाह जो Howly Town के बाशिंदे है उन्होंने 11-03-1996 तारीख को दान किए थे। शमशान की शिव मंदिर को बनाने वाले का नाम:- श्री अधर दास, श्री अंजली दास। पिता स्वर्गीय राज किशोर दास, माता स्वर्गीय होम्म किशोर दास Howly Town, Ward no:-2, (ESTD:-12-02-2010). लेकिन जब मैंने श्मशान घाट में जाकर थोड़ा बातचीत की स्थानीय लोगों से तब उन्होंने यह बोला की अभी तक (2018) श्मशान घाट का कोई कमिटी नहीं है। सिर्फ पूजा के समय ही कुछ दिनों के लिए कमेटी बनाई जाती है (Temporary committee) उसके बाद इस स्थान की किसी को जरूरत नहीं होती जब जरूरत होती है वह इस्तेमाल करक चले जाते हैं और इसीलिए यह शमशान घाट बहुत ही असामाजिक तत्व, दैनिक पूजा पाठ नहीं होता है और जंगल मय परिवेश में है। यह भी शिकायत रहती है की लोक डेड बॉडी(Death body) को जब जलाने आते हैं, तब जलाकर उस जगह को वैसे ही छोड़ देते हैं। मैं इस लेख से आप सभी लोगों से और खासकर हाउली बासी के लिए यह निवेदन करता हूं की हमारे इस पावन मंदिर या श्मशान घाट को परिष्कार, देखभाल करना और यहां पर अगर मंदिर है तो उसकी देखरेख करना हमारी जिम्मेदारी बनती है खासकर हाउली के लोगों के लिए। इसको जरूर ध्यान रखें।
Google Location:-

 

 

Howly Shamshan ghat

 

Howly Shamshan Ghat

 

 

Howly Hanuman Mandir (हनुमान मंदिर)

1924 (अनुमानित) इस मंदिर का स्थापना हुआ था। इस मंदिर में राम, लक्ष्मण, सीता, हनुमान महाराज की मूर्ति और बगल में ही एक घर में शिवलिंग, गणेश और पार्वती की भी मूर्ति है। यह मंदिर Howly Town के चारीआलि में है या यूं कहें Biswanath Das & Son, Petrol Pump की बगल में ही है। यहां पर हर रोज पूजा अर्चना किया जाता है दिन में करीब तीन बार हनुमान महाराज जी की पूजा करते हैं, इस मंदिर में एक पुरानी पुजारी/ पंडित है, जो अपने बेटे के साथ पूजा अर्चना करती है। मुख्य पुजारी का नाम विश्वनाथ ओझा(Biswanath Ojha) और उनके बेटे का नाम शशिकांत ओझा(Shasikant Ojha) है। शाम के 7:00 बजे से 8:00 बजे तक उनके बेटा रहते हैं और बाद में 8:00 बजे से लेकर 12 या फिर 3:00 बजे तक उनके पिता रहते हैं मंदिर में। पंडित जी का असल घर बिहार (Bihar) के मोतिहारी जिले में तुलसी पट्टी नाम के गांव में है। इस मंदिर के पंडित ज्योतिष शास्त्र, आयुर्वेद (Ayurved) का भी ज्ञान रखते हैं। पंडित जी का Registered licence भी है जिसका (Batch no) नंबर RMP-535 (Patna) है। अगर आपके घर में कलेश, विवाह संबंधित समस्या, हस्तरेखा पढ़ना, ग्रह दशा, शनि कोप, भूत-पिचास आदि जैसी समस्या है तो आपको सभी समस्याओं का समाधान मिलेगा। Phone No:- +91-9085155478 पंडित जी के बेटे का दूरभाषा नंबर:- +91-9085155475 इन दोनों नंबर पर आप लोग कभी भी आपके समस्या से जुड़े बातें कर सकते हैं।

 

Howly Hanuman Mandir

 

RadhaGobinda Temple, Howly Lachit Road (ESTD:-1973)

Lakshmi Mandir, Motupri,Howly

MadhaBazar Durga Mandir, Howly (ESTD:-1923)

Moiramara Namati Satra

Kaljar Satra

Moiramara Caturvoj Kirtanghar

Howly Markaz Jama Masjid. (ESTD:-1909)

 

Howly Town Jama Masjid

 

Howly Town Kabbarstan

Parcim Howly Town Jama Masjid

Bogaijanpara Masjid

Homa Masjid, Howly

Kali Mandir, Howly

Howly Gaon Rakhal Gohair Than.

Madan Mohan Kirtanghar, Howly(ESTD:-1978)

Howly Anchalik Namghar

Shiv Mandir, Howly

HalaPakuri Namghar

Moutupuri Namghar,Howly

Moutupuri Lakshmi Mandir

Jarabari Satra

Dalagoan Kirtanghar, Howly

 

 

Howly के School और Colleges

 

Howly Higher Secondary School

{Howly High School (ESTD:-1939)}

Howly High School

 

Howly Normal School. (ESTD:-1950)

Howly M.E School. (ESTD:-1936)

Howly Girls High School, (ESTD:-1958)

Howly Adarsh Vidyapeeth School,(ESTD:-1972)

Howly Junior College, Howly Town (ESTD:-1996)

Howly Junior College

 

B.H College,Howly (ESTD:-1966)

Milan Jyoti College, Kaljar

St. Xavier high School, Howly

Holi Child Academy, Howly

Maulana Abul Kalam Azad Academy, (MAKAA) Howly

Prime Academy,Howly

Srimanta Sankardev Sishu Niketan, Howly

Howly Jatiya Vidyalay

Chandi Barwa Jatiya Vidyalay, Howly

Dabaliapara High School

District Institute of Education and Training-

(Diet) Howly, Barpeta

DIET,Howly

Howly Basic Training Center. (ESTD:-1949)

Howly Azad High School

Howly Azad Primary ME School.

Ahleya Balika Vidyalay, Howly (ESTD:-1954)

Krishi Vigyan Kendra, Barpeta(Howly)

Barbala Higher Secondary School (ESTD:-1962)

Hazrat Umar Model Academy, (HOMA) Howly

Sublime Academy, Itarvata

Hilapakhri High Madras, (ESTD:-1968)

Ramanujan Academy, Near Police Station (Howly) (ESTD:-2018)

Howly  के गांव या रास्ते का नाम

 

Howly Chriali
Howly Thakurbari road
Howly lachit Road
Howly Durgabari road
Howly Kabarstan road
Howly jadab path
Howly Moiramara
Paravaral, Howly
Howly Goan
Moutupuri, Howly
Jadab Road,Howly
Thana Road, Howly
Baruwa Bazar, Howly
Madha Bazar, Howly
Ananda Bazar, Howly
Ambari Road, Howly
Kalibari Road,Howly
Chatra path
Gurustan Road, Howly
Howly CHC Road
Bagaijanpara
MunshiPara,
Ambari
Goraimari
Itarvita
Khatalpara Road
Nagarjar
Dr. Surendra Nath Das Road
Jania Road

 

Howly के स्मृति स्थल, संस्था और NGO

 

Howly Chandi Baruwa smriti bavan,

Monumati (মনোমতী) Grmaa Puthivaral, Howly (ESTD:-1958)

Howly sahitya Sabha, Howly Town

Nihar Hall ,Howly

Trikanay bibaha bhaban,(B.B Hall) Howly

Howly kriya hantha.

Chandi baruwa stadium,Howly

Moiramara damudar sang, Howly

Chaturbhuj sports club, Howly

Bap-Bandhab Sang, Howly

Panchratan Farm, Howly Town

Padmabati Krikhak Puthivaral, Howly

Ramdhnu ,Howly

Jayanta howarani Kala Parishad,Howly

Halapakuri Grma Puthivaral

Howly Club

Jyoti sang, Howly Town

Jansabak Sang

Evergreen Club, Howly

United Club, Howly

Dolphin club, Howly Town

Town club, Howly

Srimanta Sankardev Sangha, Howly

Charming club and library,Howly

Nagarjar N-Jawan club

Mahbub club, Howly

Chandi Baruwa cricket club, Howly

 

Hotels, Dhaba, Restaurant, ATM And Tourist lodge

5-7 किलोमीटर के अंदर ही आप लोगों को Howly Town मैं खाने-पीने के लिए Hotels, Dhaba, Restaurant और रहने के लिए Tourist lodge, Hotels मिल जाएंगे। नीचे होटलों के नाम और लोकेशन दिया हुआ है।

 

 

Ashoka Hotel & Restaurent
Howly,BTC Road, Assam 781316
Google Map Location:-
https://maps.app.goo.gl/qtpan64JRrat75yV9

Trisna Varity And Bakery Store
Phulkipara, Assam 781316
https://maps.app.goo.gl/NFCHpXw7xkPugCSC9

Abhinandan Restaurant
Howly – Barpeta Rd, Howly, Assam 781316
https://maps.app.goo.gl/7mxfgFrcRfCRhxiRA

NANDAN RESTAURANT
Howly – Barpeta Rd, Guwahati, Assam 781316
https://maps.app.goo.gl/wG7Bfc7eXueqhDim7

H B Guest House
National Highway 31, Ward No 1, A G Manor Building, Nera Swad Sagar Dhaba, Howly, Assam 781316
070866 47020
https://maps.app.goo.gl/FrxFYmcxsj3cD9Un6

Nirmali Vivha Bhawan & Guest house, Howly
Phone:-9401308567, 9859242012, 9435106920

A/N WINE SHOP
Howli Town, ward no.2 opposite of fish market, BTC Rd, Howly, Assam 781316
070027 08558
https://maps.app.goo.gl/sb1mC9jmxjCn8VD48

State Bank ATM
Narayan Pathan Path, Narayan Pathan Path, National Highway 31, Howly, Assam 781316
https://maps.app.goo.gl/YVLERU5F8dphj8E29

Axis Bank ATM
Shop No 1, Das Ganesh Complex, Ambari, Assam 781316
1860 419 5555
https://maps.app.goo.gl/3m1bHfi2HxVztqvA7

State Bank of India ATM (2)
Ambari, Assam 781316
https://maps.app.goo.gl/7NGHknmPkVizeQVC7

UCO Bank – Howli Branch
Ambari, Assam 781316
1800 274 0123
https://maps.app.goo.gl/EhzDisJL9TDcLMQa8

Life Medical
Howly, Assam 781316
https://maps.app.goo.gl/yXuCwdNVREV34jiy5

Arati Medical,Howly
Howly – Barpeta Rd, Bagaijan Para, Assam 781316
099540 49365
https://maps.app.goo.gl/cSqrAbM4GjZpGrHx6

New Pharmacy, Howly
Ambari, Assam 781316
https://maps.app.goo.gl/ee9LuZftLNZw8hnf7

Biswanath Das & Son
Assam, Dealer – Indian Oil(Assam Oil division), Distributor Servo Lubricants, Howly – Barpeta Rd, Howly, Assam 781316
03666 289 346
https://maps.app.goo.gl/BPmTxUTLvKtaz4BAA

Howly Chriali, Bus Stand
Ambari, Assam 781316
https://maps.app.goo.gl/8GmwvmaybwoomPQg7

Howly Police Station
Ambari, Assam 781316
PhoneNo:- 03666-289 442
https://maps.app.goo.gl/v6Yz6DdUhjBJ1K9k8

 


-यह जानकारी आप लोगों को कैसा लगा अगर अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों को जरुर शेयर करें और अगर कुछ आपके मन में प्रश्न है तो नीचे कॉमेंट या फिर ई-मेल जरूर करे। धन्यवाद

 

Email:- techpixofficial@gmail.com

 

Sharing is caring!

2 thoughts on “Howly | Howly Town-হাউলী

  • November 8, 2019 at 1:33 pm
    Permalink

    Nice…abhi tak internet par Howly ke bare me jankari nahi thi.thanks bro..

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares