Howly Rash Mela/Mahotsav 2019 | হাউলী ৰাস মহোৎসৱৰ কাৰ্যক্ৰমণিকা

Howly Rash Mela/Mahotsav-2019

হাউলী ৰাস মহোৎসৱৰ কাৰ্যক্ৰমণিকা-২০১৯

PDF Link:- https://drive.google.com/drive/my-drive

 

1928 हाउली रास मंदिर (Howly Rash Mandir) स्थापित किया गया था। 1928 साल में विश्वनाथ दास को पहला Howly Rash Utsav Committee का सभापति और जोगेश चंद्र दास को संपादक बनाकर रास उत्सव मनाया गया था। रास उत्सव का बात करें तो ये Howly Rash Mahotsav तब बहुत छोटे तौर पर हुआ करता था सिर्फ 10-20 ही मूर्ति हुआ करता था और चारों तरफ जंगल ही जंगल थे। लेकिन आज यहां पर बहुत बड़ा मेला लगता है। अगर मैं गलत नहीं हूं तो यह असम में सबसे बड़ा रास मेला होगा। Howly Rash Mahotsav के बारे में अगर आप ज्यादा जानना चाहते हैं तो हर साल रास मेले के पहले दिन एक किताब मतलब “মুৰুলী” मुरली नाम का एक आलोचना किताब दिया जाता है, जिसमें Howly Rash Mahotsav के बारे में जानकारी मिलेगा।

 

Howly Rash Mahotshav

Howly Rash Mandir

Google Location:- https://goo.gl/maps/DoC8F7gtYngPwtK96

 

To Know More:- Howly Rash Mandir

 


-यह जानकारी आप लोगों को कैसा लगा अगर अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों को जरुर शेयर करें और अगर कुछ आपके मन में प्रश्न है तो नीचे कॉमेंट या फिर ई-मेल जरूर करे। धन्यवाद

 

Email:- techpixofficial@gmail.com

 

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares