Computer क्या है और ये काम कैसे करता है ?

आज की दुनिया में ऐसा कोई लोग नहीं हैं जो नहीं जानते Computer के बारे में। अक्सर आप ऐसे जगह में हर रोज आते-जाते होंगे जहां पर सरकारी या प्राइवेट कार्यालय होंगे कुछ साल पहले तक इन जगहों में लोगों ने अपने काम के लिए फाइल्स और Documents यानी पेपर वर्क ही किया जाता था लेकिन इस ने ऐसा बिस्तर पकड़ा कि अब हर कार्यालय Office मैं आपको सिर्फ PC ही नजर आएंगे। इसका कारण यही है की घंटों का काम मिनटों में कर देते हैं लिखना हो या Calculate करना बिना किसी गलती के सही से कर देते हैं। यह इतना जरूरी बन चुका है जितना की शिक्षा का महत्त्व। अभी तो well educated इंसान को भी जॉब मिलने में बहुत परेशानी होती है। इसलिए सबसे पहले तो आपको device और उसके basic knowledge रखना पड़ेगा। अभी भी आप लोगों को ऐसे गिने-चुने लोग मिल जाएंगे जो Computer के बारे में नहीं जानते। हां यह सही है कि कंप्यूटर कैसे काम करता है इसका आविष्कार किसने किया, इसका इस्तेमाल सही से कैसे करें और भी कई तरह के जो सवाल है उसका जवाब आज के आर्टिकल में आपको मिलेगा । तो चलिए, पहले हम जान लेते हैं computer क्या है?

Computer क्या है ?

एक लाइन में बताएं तो, Computer एक ऐसा मशीन है जो कुछ दिए गए निर्देशों के अनुसार काम को संपादित करता है। यह एक ऐसी डिवाइस है जो Input device के द्वारा Data को Accept करता है, फिर उसे process करता है और उसके बाद Output device के द्वारा हमें रिजल्ट शो करता है। इस डिवाइस का सिर्फ एक ही उपयोग नहीं है लगभग हर जगह इसका इस्तेमाल आप कर सकते हैं।

  एक पूरे Computer को चलाने के लिए दो चीजों की जरूरत होती है hardware और software लेकिन बहुत से लोगों को नहीं पता है कि आखिर इन दोनों में Difference क्या है। इन दोनों में बहुत ही ज्यादा अंतर है यह दोनों एक दूसरे के ऊपर निर्भर होते हैं अगर Computer का hardware खराब हो जाए तो Software किसी काम का नहीं होता और अगर Software खराब हो जाए तो Hardware  किसी काम का नहीं होता है।

यह दो चीज Hardware and software से मिलकर Computer बना होता है। इसको चलाने वाले व्यक्ति को computer operator या यूजर कहते हैं। और जो इसके लिए program बनाता है उसे programmer कहते हैं। चलिए अब हम जानेंगे इसके software और hardware के बारे में।

 

Computer हार्डवेयर के प्रकार ?

यह Computer मशीन के वह सभी हिस्से है जैसे –  Monitor, Keyboard, CPU and mouse वह सभी चीज जिसे हम हाथों से छूकर पता कर सकते हैं। उन्हें Hardware कहते हैं। इनको तीन भागों में बांटा गया है-

  1. Input device
  2. Output device
  3. Central processing unit. (C.P.U)

 

Computer software सॉफ्टवेयर

यह वे पार्ट जिनको हम देख और कार्य कर सकते हैं । लेकिन उनको हम अपनी हाथों से छू नहीं सकते है। उसे सॉफ्टवेयर कहते हैं। यह भी दो प्रकार के होते हैं –

  1. System software.
  2. Application software.

* इस सॉफ्टवेयर के बारे में किसी दूसरे आर्टिकल में जानेंगे।

 

Computer का फुल फॉर्म क्या है ?

कंप्यूटर का फुल फॉर्म है–

C- Commonly,  O- Operated, M- Machine,

P- Particularly,  U- Used for, T- Technical and

E- Educational,  R- Research.

Computer का आविष्कार किसने किया था?

इसका आविष्कार दुनिया के सबसे बड़े अविष्कारों में से एक है। क्योंकि इसने पूरी दुनिया को ही बदल कर रख दिया है। जहां तक अविष्कार की बात है,ऐसे तो बहुत से लोगों ने इस computing field में अपना योगदान दिया था लेकिन इन सब में सबसे ज्यादा योगदान Charles Babage का है, जो Computer के “जनक” के नाम से भी जाना जाता है। क्योंकि उन्होंने ही सबसे पहले Analytical Engine सन 1837 में निकला था। जो Analytical engine  ALU (Arithmetic and logic unit), basic flow control and integrated memory) का इस्तेमाल किया था। आज कल के सिस्टम में भी इसी मॉडल के आधार पर बनाए जाते हैं।

 

Computer कैसे काम करता है ?

आज के जमाने में हर कोई PC या Laptop में काम करता है। लेकिन यह कंप्यूटर इंटरनेल वर्क कैसे करता है शायद ही इसके बारे में किसी को पता हो।

Input- सबसे पहले इनपुट डिवाइस से यूजर डाटा को कंप्यूटर में डालते हैं। उसे input कहते हैं। यह कोई letters, numbers, words, audio, या कोई Video भी हो सकता है।

Process- प्रोसेस के समय इनपुट हुए डाटा को निर्देश के अनुसार प्रोसेसिंग की जाती है। यह एक पूरी तरह से इंटरनेल प्रक्रिया होता है।

Output- Output के समय यानी Processed किया हुआ डाटा को रिजल्ट के रूप में दिखाती है। उसे Output कहते हैं। जब डाटा प्रोसेस हो जाता है तो वो Monitor screen, Printer, Audio device Etc. के जरिए हमें रिजल्ट मिलता है।

 

computer kya hai aur yah kam kaise karta hai
What is Computer

 

Based on structure ( संरचना के आधार पर )

इसके आधार पर कंप्यूटर को 3 भागों में बांटा गया है।

  1. Analog
  2. Digital.
  3. Hybrid.

Based on performance and size ( कार्य, क्षमता के आधार पर)

परफॉर्मेंस और साइज के आधार पर इनको 4  भागों में बाटा गया है

  1. Micro Computer.
  2. Mini Computer.
  3. Main frame Computer.
  4. Super Computer.

 


 -दोस्तों यदि यह पोस्ट आप लोगों को अच्छा लगे। तो इसे अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें और कमेंट भी करें ।

Email:- techpixofficial@gmail.com

 

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

shares